इन 4 कारणों से झड़ते हैं आइब्रो के बाल, जानिये कारण और बचाव के तरीके

काली घनी आइब्रो आंखों की खूबसूरती में इज़ाफा करती हैं। आंखों को खूबसूरत दिखाने में आइब्रोज का बड़ा रोल होता है।

काली घनी आइब्रो

आइब्रो के कम होने का कारण थॉयराइड हो सकता है। थॉयराइड का कम होना और बढ़ना दोनों ही बालों के कम होने का कारण होता है। अगर आपकी आइब्रो पतली हो रही हैं तो थॉयराइड इसकी वजह हो सकता है।

थायराइड की कमी:

आइब्रो पतले होने का मुख्य कारण बालों के झड़ने की स्थिति है जिसे ‘एलोपेसिया एरीटा’ कहा जाता है। यह एक ऑटोइम्यून स्थिति है जिसमें इम्यून सिस्टम गलती से बालों के रोम पर हमला करने लगता है। 

एलोपेशिया एरियाटा:

जैसे जैसे उम्र बढ़ती रहती है वैसे वैसे सिर पर और आइब्रो के बाल कम होने लगते हैं। डॉ. पंथ ने बताया कि 45 साल की उम्र पार करने के बाद आपकी भौहें कम दिखने लगेंगी।

उम्र बढ़ने पर कम हो सकती हैं आइब्रो:

बॉडी में पोषक तत्वों की कमी, एक्जिमा, सोरायसिस, कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस, सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस और दाद आइब्रो के पतले होने का संभावित कारण हो सकते हैं। 

स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं वजह:

आइब्रो के बाल कम होने को नजरअंदाज नहीं करें बल्कि तुरंत उसका उपचार करें।

Skin Care Tips: स्किन और बालों के लिए फायदेमंद है नारियल का दूध